Top 50 Samas or Compound with Question and Answers

Top 50 Samas or Compound with Question and Answers

Samas or Compound Definition in Hindi Grammar :

समास (Samas or Compound) का तात्पर्य होता है – संछिप्तीकरण। इसका शाब्दिक अर्थ होता है छोटा रूप अथार्त जब दो या दो से अधिक शब्दों से मिलकर जो नया और छोटा शब्द बनता है उस शब्द को समास (Compound) कहते हैं। दूसरे शब्दों में कहा जाए तो जहाँ पर कम- से- कम शब्दों में अधिक से अधिक अर्थ को प्रकट किया जाए वह समास  कहलाता है।

समास के भेद (Types of Compound)

समास मुख्यतः छह प्रकार के होते हैं :
1. अव्ययीभाव समास
2. तत्पुरूष समास
3. कर्मधारय समास
4. द्विगु समास
5. द्वंद्व समास
6. बहुव्रीहि समास

1. अव्ययीभाव समास (Avyayibhav Samas) :

जिस समास का पहला पद अथार्त पूर्वपद अव्यय तथा प्रधान हो, ऐसे शब्द को अव्ययीभाव समास कहा जाता है।
पहचान : पहला पद (पहला शब्द) में “आ, अनु, यथा, प्रति, भर, यावत, हर” आदि का प्रयोग होता है; जैसे –

आ + जन्म = आजन्म – जन्म से लेकर
प्रति + दिन = प्रतिदिन – प्रत्येक दिन

2. तत्पुरूष समास (Tatpurush Samas) :

जिस समास में उत्तरपद (बाद का शब्द या आखिरी शब्द) प्रधान होता है तथा दोनों पदों (शब्दों) के बीच का कारक-चिह्न (को, का, में, से, के लिए, आदि) लुप्त हो जाता है, उसे तत्पुरूष समास कहते हैं; जैसे –

रचना को करने वाला = रचनाकार
राजा का कुमार = राजकुमार
धर्म का ग्रंथ = धर्मग्रंथ

3. कर्मधारय समास (Karmadharaya Samas) :

जिस समस्त-पद का उत्तरपद प्रधान हो तथा पूर्वपद व उत्तरपद में उपमान-उपमेय अथवा विशेषण-विशेष्य संबंध हो, कर्मधारय समास कहलाता है।
पहचान : विग्रह करने पर दोनों पद के मध्य में ‘है जो’, ‘के समान’ आदि आते हैं । जैसे –

चंद्रमुख – चंद्र के समान मुख
चरणकमल – कमल के समान चरण
महादेव – महान है जो देव

4. द्विगु समास (Dvigu Samas) :

जिस समस्त-पद का पूर्वपद संख्यावाचक विशेषण हो, द्विगु समास कहलाता है।

इसमें समूह या समाहार का ज्ञान होता है; या जिस शब्द का प्रथम पद (पहला शब्द) गिनती, गणना अथवा व्यक्ति, वस्तु, पदार्थ या अन्य किसी की संख्या या समूह का बोध करवाता है, तो ऐसे शब्द को द्विगु समास कहा जाता है।

सीधे शब्दों में कहा जाये तो जिस समास शब्द में गिनती (एक, दो, तीन …. सात आदि) का प्रयोग होता है, वहां द्विगु समास होता है।
जैसे –

त्रिलोक – तीनों लोकों का समाहार
दोपहर – दो पहरों का समूह
सप्तसिंधु – सात सिंधुओं का समूह

5. द्वंद्व समास (Dvandva Samas) :

जिस समस्त-पद (पूर्ण शब्द) के दोनों पद प्रधान (प्रथम पद व उत्तर पद) हों तथा शब्द का विग्रह करने पर ‘अथवा’, ‘और’, ‘या’, ‘एवंं’ लगता हो, तो ऐसे शब्द को द्वंद्व समास कहते हैं।

पहचान : दोनों पदों के बीच प्रायः ‘योजक चिह्न (-)’ का प्रयोग होता है, लेकिन हमेशा नहीं।

साथ ही द्वंद्व समास में प्रथम पद व दूसरा पद एक दूसरे के विरोधाभाषी या कहा जाये कि विलोम होते हैं, जैसे की नाम से ही प्रतीत होता है, द्वंद्व अर्थात दो शब्द, पदार्थ, गुण या स्थितियाँ जो परस्पर विरोधी हों।

अर्थात इस समास में ऐसे प्रथम पद और उत्तर पद का प्रयोग होता है जो एक दूसरे का विरोध करते हैं। जैसे–

ठंडा-गरम = ठंडा या गरम
देवासुर = देव और असुर
पाप-पुण्य = पाप और पुण्य
नदी-नाले = नदी और नाले

6. बहुव्रीहि समास (Bahuvrihi Samas) :

जिस समस्त-पद अथवा पूर्ण शब्द में कोई पद प्रधान नहीं होता, दोनों पद मिलकर किसी तीसरे पद की ओर संकेत करते हैं, उसमें बहुव्रीहि समास होता है।

अर्थात ऐसा भी कहा जा सकता है कि जब कोई दो शब्द मिलकर ऐसे शब्द का निर्माण करते हैं जो कि उन शब्दों के बारे में न बताकर, जिनसे कि नए शब्द का निर्माण हुआ है, किसी और ही व्यक्ति या वस्तु विशेष की विशेषता को बताते या दर्शाते हों, तो वहाँ पर बहुव्रीहि समास होता है।
जैसे –

नीलकंठ – नीला है कंठ जिसका
लंबोदर – लंबा है उदर जिसका
चौलड़ी – चार हैं लड़िया जिसमें
दशानन – दस हैं आनन जिसके

Samas (Compound) with Question and Answers :

Compound in Grammar (Compound Examples) :

  1. ‘गौशाला’ में कौन सा समास है?
  1. तत्पुरुष
  2. द्वन्द
  3. कर्मधारय
  4. द्विगु
  1. ‘नवग्रह’ में कौन सा समास है?
  1. द्विगु
  2. तत्पुरुष
  3. द्वन्द
  4. कर्मधारय
  1. ‘कन्यादान’ में कौन सा समास है?
  1. बहुव्रीहि
  2. तत्पुरुष
  3. द्विगु
  4. कर्मधारय
  1. ‘विद्यार्थी’ में कौन सा समास है?
  1. तत्पुरुष
  2. कर्मधारय
  3. बहुब्रीहि
  4. द्विगु
  1. ‘पीताम्बर’ में कौन सा समास है?
  1. बहुब्रीहि
  2. द्वन्द
  3. कर्मधारय
  4. द्विगु
  1. ‘पाप-पुण्य’ में कौन सा समास है?
  1. द्विगु
  2. द्वन्द
  3. तत्पुरुष
  4. कर्मधारय



  1. ‘देशप्रेम’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. तत्पुरुष
  3. द्विगु
  4. बहुब्रीहि
  1. ‘देवासुर ‘ में कौन सा समास है?
  1. बहुव्रीहि
  2. कर्मधारय
  3. तत्पुरुष
  4. द्वन्द
  1. ‘द्विगु’ समास का उदाहरण कौन सा है?
  1. अन्वय
  2. दिन-रात
  3. चतुरानन
  4. त्रिभुवन
  1. ‘चतुर्भुज’ में कौन सा समास है?
  1. द्वन्द
  2. बहुव्रीहि
  3. तत्पुरुष
  4. कर्मधारय
  1. ‘वनवास’ में कौन सा समास है?
  1. तत्पुरुष
  2. कर्मधारय
  3. द्वन्द
  4. बहुव्रीहि
  1. ‘नीलकमल’ में कौन सा समास है?
  1. बहुव्रीहि
  2. तत्पुरुष
  3. कर्मधारय
  4. द्विगु
  1. ‘नरोत्तम’ में कौन सा समास है?
  1. कर्मधारय
  2. तत्पुरुष
  3. अव्ययीभाव
  4. द्वन्द
  1. ‘युधिष्ठिर’ में कौन सा समास है?
  1. तत्पुरुष
  2. बहुव्रीहि
  3. अलुक
  4. कर्मधारय
  1. ‘भाई -बहन’ में कौन सा समास है?
  1. द्वन्द
  2. बहिव्रीहि
  3. द्विगु
  4. तत्पुरुष



  1. ‘पंचवटी’ में कौन सा समास है?
  1. द्विगु
  2. बहुव्रीहि
  3. तत्पुरुष
  4. कर्मधारय
  1. ‘मुख -दर्शन’ में कौन सा समास है?
  1. द्विगु
  2. तत्पुरुष
  3. द्वन्द
  4. बहुव्रीहि
  1. ‘दशमुख’ में कौन सा समास है?
  1. कर्मधारय
  2. बहुव्रीहि
  3. तत्पुरुष
  4. द्विगु
  1. ‘जितेन्द्रिय’ में कौन सा समास है?
  1. द्वन्द
  2. बहुव्रीहि
  3. तत्पुरुष
  4. कर्मधारय
  1. ‘लम्बोदार’ में कौन सा समास है?
  1. द्वन्द
  2. द्विगु
  3. तत्पुरुष
  4. बहुव्रीहि
  1. कौन सा शब्द बहुव्रीहि समास का सही उदहारण है?
  1. निशिदिन
  2. त्रिभुवन
  3. पंचानन
  4. पुरुषसिंह
  1. ‘गगनचुम्बी’ में कौन सा समास है?
  1. बहुव्रीहि
  2. अव्ययीभाव
  3. तत्पुरुष
  4. कर्मधारय
  1. ‘दीनानाथ’ में कौन सा समास है?
  1. कर्मधारय
  2. बहुव्रीहि
  3. द्विगु
  4. द्वन्द
  1. ‘देशांतर’ में कौन सा समास है?
  1. बहुव्रीहि
  2. द्विगु
  3. द्वन्द
  4. कर्मधारय
  1. निम्नलिखित में से कौन सा पद अव्ययीभाव समास है?
  1. गृहागत
  2. आचारकुशल
  3. प्रतिदिन
  4. कुमारी
  1. समास का शाब्दिक अर्थ होता है?
  1. संछेप
  2. विस्तार
  3. विग्रह
  4. विच्छेद



  1. किसमें सही सामासिक पद है?
  1. पुरुषधंवि
  2. दिवारात्रि
  3. त्रिलोकी
  4. मंत्रिपरिषद
  1. ‘त्रिफला’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. द्वन्द
  3. द्विगु
  4. कर्मधारय
  1. ‘चक्रपाणि’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. बहुव्रीहि
  3. कर्मधारय
  4. तत्पुरुष
  1. ‘धक्का -मुक्की’ में कौन सा समास है?
  1. कर्मधारय
  2. द्विगु
  3. द्वन्द
  4. तत्पुरुष
  1. ‘तन-मन-धन’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. कर्मधारय
  3. द्विगु
  4. द्वन्द
  1. ‘आजन्म’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. तत्पुरुष
  3. द्वन्द
  4. द्विगु



  1. ‘साग-पात’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. द्विगु
  3. कर्मधारय
  4. द्वन्द
  1. ‘चौराहा’ में कौन सा समास है?
  1. बहुव्रीहि
  2. तत्पुरुष
  3. अव्ययीभाव
  4. द्विगु
  1. ‘सुपुरुष’ में कौन सा समास है?
  1. तत्पुरुष
  2. अव्ययीभाव
  3. कर्मधारय
  4. द्वन्द
  1. ‘चन्द्रबदन’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. कर्मधारय
  3. द्विगु
  4. द्वन्द
  1. ‘गौरीशंकर’ में कौन सा समास है?
  1. कर्मधारय
  2. द्विगु
  3. अव्ययीभाव
  4. द्वन्द
  1. ‘नवयुवक’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. कर्मधारय
  3. द्विगु
  4. द्वन्द
  1. ‘राधा-कृष्ण’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. तत्पुरुष
  3. द्वन्द
  4. द्विगु
  1. ‘महारानी’ में कौन सा समास है?
  1. बहुव्रीहि
  2. द्विगु
  3. द्वन्द
  4. कर्मधारय
  1. ‘मृगनयन’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. कर्मधारय
  3. द्विगु
  4. द्वन्द



  1. ‘नीलाम्बर’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. बहुव्रीहि
  3. कर्मधारय
  4. तत्पुरुष
  1. ‘कापुरुष’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. कर्मधारय
  3. द्विगु
  4. द्वन्द
  1. ‘लौहपुरुष’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. बहुव्रीहि
  3. कर्मधारय
  4. तत्पुरुष
  1. ‘प्रत्येक’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. कर्मधारय
  3. द्विगु
  4. द्वन्द
  1. ‘प्रतिदिन’ में कौन सा समास है?
  1. कर्मधारय
  2. द्विगु
  3. अव्ययीभाव
  4. द्वन्द

  1. ‘मुरलीधर’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. बहुव्रीहि
  3. कर्मधारय
  4. तत्पुरुष
  1. ‘महाशय’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. कर्मधारय
  3. द्विगु
  4. द्वन्द
  1. ‘जलज’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. बहुव्रीहि
  3. कर्मधारय
  4. तत्पुरुष



  1. ‘चन्द्रभाल’ में कौन सा समास है?
  1. अव्ययीभाव
  2. कर्मधारय
  3. तत्पुरुष
  4. बहुव्रीहि

You May Also Like :

Top 30 Alankar or Figure of Speech with Question and Answers (Hindi)

Sandhi Viched in Hindi Grammar and Its Examples(Hindi)

10 thoughts on “Top 50 Samas or Compound with Question and Answers

  1. That is a good tip especially to those new to the blogosphere.
    Simple but very precise information… Many thanks for sharing this one.
    A must read article!

  2. Thank you for any other excellent article.

    The place else may anyone get that kind of information in such an ideal manner of writing?
    I have a presentation next week, and I’m at the look for such info.

  3. I have read several good stuff here. Definitely price bookmarking for revisiting.
    I wonder how so much attempt you place to create the sort of great informative web site.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *